वीरमाता जिजाऊ पुरस्कार
   

 
 
विपरीत परिस्थितिओं में भी साथीयों को साथ लेकर राष्ट्रनिर्माण का आदर्श छत्रपति शिवाजी महाराज ने प्रस्तुत किया।
परन्तु छत्रपति शिवाजी में वीरता, धीरता और संकल्पशक्ति को भरने का कार्य किया था माता जीजाबाई ने। माता जीजाबाई के योग्य लालन-पालन के कारण ही छत्रपति में राष्ट्रनिर्माण के लिए योग्य गुणों का निर्माण हो सका था।
राष्ट्रीय और अन्तरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में विजेता खिलाडियों को तो पुरस्कार मिलते है। किन्तु उनके पालकों को कोई नही जान पाता।
 
इस लिए ऐसे खिलाडियों की माताओं का सम्मान करने के लिए क्रीडा भारती “वीरमाता जीजाऊ पुरस्कार” प्रदान करती है। यह कार्यक्रम प्रत्येक प्रान्त और जिला स्तर पर आयोजित किया जाता है।